उत्तर प्रदेशगोरखपुर

पूर्व की सरकारों में नहीं थी विकास की सोच: सीएम योगी

गोरखपुर। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पूर्व की सरकारों और सम्प्रति विपक्ष पर हमला बोलते हुए कहा कि प्रदेश में पहले भी सरकारें आती थीं लेकिन तब गांव, गरीब, किसान, नौजवान, महिलाओं के विकास को लेकर कोई सोच नहीं थी। कोई भी योजना बनती थी तो उसका आधार व्यक्ति या जाति देखकर तय किया जाता था। पर, अब ऐसा नहीं होता। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सबका साथ, सबका विकास का जो मंत्र दिया, उसका लाभ प्रत्येक तबके को मिल रहा है। प्रधानमंत्री आवास योजना समेत सभी योजनाओं का लाभ समाज के हर वर्ग को बिना भेदभाव प्रदान किया जा रहा है।

सीएम योगी रविवार शाम मानबेला में प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) के अंर्तगत निर्मित 1500 आवासों के लोकार्पण समारोह को संबोधित कर रहे थे। इस दौरान उन्होंने 15 लाभार्थियों को प्रतीकात्मक चाबी व कब्जा प्रमाणपत्र भी प्रदान किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में 43 लाख परिवारों को पीएम आवास योजना का लाभ दिया गया है। यह पहले भी हो सकता था लेकिन सर्वाधिक समय तक शासन करने वाली कांग्रेस, यूपी में चार बार सरकार बनाने वाली समाजवादी पार्टी और तीन बार राज करने का अवसर पाने वाली बहुजन समाज पार्टी को गरीबों की चिंता नहीं थी। इन दलों के राज में योजनाओं लाभ गरीबों को नहीं बल्कि चेहरा देखकर चुनिंदा लोगों को दिया जाता था।

पहले की सरकारों को कहां थी फुर्सत

सीएम योगी ने कहा कि अकेले गोरखपुर शहर में 34228 ऐसे लोगों को पीएम आवास योजना से अपना मकान मिला है जो अब तक अपने खुद के आवास से वंचित थे। पूर्व की सरकारों को ऐसा करने की फुर्सत ही कहाँ थी। उन्होंने कहा कि पहले गरीबों को खाद्यान्न नहीं मिलता था। आज हर पात्र को मुफ्त राशन मिल रहा है। लोगों को पूर्व की सरकारों में बिजली नहीं मिलती थी, आज बिना भेदभाव सबको पर्याप्त बिजली मिल रही है।

इंसेफेलाइटिस नियंत्रण में शौचालयों की बड़ी भूमिका

सीएम योगी ने अपने संबोधन में पूर्वी उत्तर प्रदेश में लंबे समय तक कहर बरपाने वाली इंसेफेलाइटिस का उल्लेख करते हुए कहा कि 2017 के पहले तक प्रतिवर्ष हजारों मासूमों की मौत इस सीजन में हो जाती थी। पर, आज इस बीमारी को पूरी तरह नियंत्रित कर लिया गया है और इसमें पीएम मोदी द्वारा शुरू स्वच्छ भारत मिशन के तहत घर घर बने शौचालयों की बड़ी भूमिका रही। सीएम ने बताया कि शौचालय न होने से इज्जत तार तार होती थी, मासूम बीमारी की चपेट में आ जाते थे। उन्होंने बताया कि उत्तर प्रदेश में 2.61 करोड़ व्यक्तिगत शौचालय बनाए गए हैं।

1500 परिवारों के लिए नया सवेरा, दिवाली जैसा उत्सव

मुख्यमंत्री ने कहा कि आज 1500 परिवारों के लिए नया सवेरा है, दिवाली जैसा उत्सव है। पीएम की संकल्पना को साकार करते हुए हमें 2022 तक हर गरीब के सिर पर छत की व्यवस्था करनी है। उन्होंने कहा कि समाज के सभी तबकों के लिए बहुत कुछ किया गया है लेकिन बहुत कुछ करना भी बाकी है। उन्होंने कहा कि वनटांगिया गांवों में जो लोग पांच साल पहले झोपड़ियों में रहते थे, आज उन सबके पास अपने पक्के मकान हैं। वहां स्कूल तक नहीं था जबकि आज स्कूल के साथ स्मार्ट क्लास भी है। शाम होते ही जिनकी जिंदगी अंधेरे में डूब जाती थी, वो आज बिजली और सोलर पैनल से रोशन हैं।

व्यापक सम्भावनाओं के लिए खुद को तैयार करना होगा

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि हमें व्यापक संभावनाओं के लिए खुद को और शहर को तैयार करना होगा। उन्होंने कहा कि मानबेला का यह क्षेत्र तेजी से विकसित हो रहा है। इसके समीप खाद कारखाना, सैनिक स्कूल, पीएसी की महिला बटालियन की स्थापना हो रही है। सामने मेडिकल कॉलेज पहले से है। कहा कि इन सब के जरिए विकास और रोजगार के नए अवसर पैदा हो रहे हैं। मुख्यमंत्री ने बताया कि अगले माह पीएम नरेंद्र मोदी के हाथों एम्स और खाद कारखाने का लोकार्पण भी हो जाएगा।

कई तबके के लिए योजनाएं बनाए प्रशासन

सीएम ने कहा कि प्रधानमंत्री आवास योजना के साथ उन मलिन बस्तियों को भी जोड़ा जा सकता है जहां की हालत दयनीय है। प्रशासन मलिन बस्तियों के अलावा अन्य कई तबकों के लिए भी योजनाएं बनाए। सीएम ने सुझाव दिया कि मलिन बस्तियों में कमर्शियल व आवासीय सुविधाओं का विकास कर वहां रहने वाले लोगों के जीवन स्तर में काफी सुधार किया जा सकता है। इस अवसर पर उन्होंने पत्रकारों के लिए बन रही आवासीय योजना पत्रकारपुरम का भी उल्लेख किया। उन्होंने कहा कि गोरखपुर विकास प्राधिकरण सब्सिडी का अंश बढ़ाकर और बेहतर सुविधाएं विकसित करे। साथ ही उन्होंने डॉक्टरों, शिक्षकों, अधिवक्ताओं आदि के लिए भी इनकम ग्रुप बनाकर आवासीय योजनाओं को आगे बढ़ाने की आवश्यकता जताई। यह भी कहा कि माफियाओं द्वारा कब्जा की गई जमीनों को मुक्त कराकर गरीबों के लिए मुफ्त आवास बनाने की आवश्यकता है।

2002 में दोबारा प्रचंड बहुमत से सीएम बन रहे हैं योगी : रविकिशन

स्वागत संबोधन में सांसद रविकिशन शुक्ल ने कहा कि संसाधन वही और सिस्टम वही है जो पूर्व की सरकारों में था। तब लूट खसोट में लिप्त सत्ताधीश विकास का रोना रोते थे। आज ईमानदारी और कर्मठता से मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उत्तर प्रदेश को देश का नम्बर एक प्रदेश बना दिया। उन्होंने कहा कि यह अभी से तय हो गया है कि 2022 में प्रचंड बहुमत से योगी जी दोबारा मुख्यमंत्री बन रहे हैं। सांसद रविकिशन ने ट्विटर पर आज वायरल पीएम मोदी और सीएम योगी की फोटो का जिक्र करते हुए कहा कि यह बदलते भारत के बदलते उत्तर प्रदेश की तस्वीर है। पीएम मोदी, सीएम योगी के कंधे पर हाथ रखकर चल रहे हैं, इसे देख समूचा जनसमुदाय गदगद है।

कार्यक्रम को राज्यसभा सदस्य जयप्रकाश निषाद, नगर विधायक डॉ राधामोहन दास अग्रवाल, पिपराइच के विधायक महेंद्रपाल सिंह ने भी संबोधित किया। इस अवसर पर जीडीए उपाध्यक्ष प्रेम रंजन सिंह ने इस आवासीय परियोजना के बारे में मूलभूत जानकारी दी। आभार ज्ञापन जीडीए सचिव यूपी सिंह ने किया। कार्यक्रम में जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती साधना सिंह, महापौर सीताराम जायसवाल, विधायक फतेह बहादुर सिंह, डॉ राधामोहन दास अग्रवाल, महेंद्रपाल सिंह, बिपिन सिंह, शीतल पांडेय, मंडलायुक्त रवि कुमार एनजी, जिलाधिकारी विजय किरन आनंद, नगर आयुक्त अविनाश सिंह, नगर निगम के उपसभापति ऋषि मोहन वर्मा, जीडीए बोर्ड के सदस्य दुर्गेश बजाज, पवन त्रिपाठी, राधेश्याम श्रीवास्तव, भाजपा के महानगर अध्यक्ष राजेश गुप्ता आदि मंच पर मौजूद रहे।

डूडा ने किया सत्यापन, जीडीए ने कराया निर्माण

मानबेला में प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) के तहत गोरखपुर विकास प्राधिकरण द्वारा 1500 मकानों का निर्माण 32 ब्लॉकों में मल्टीस्टोरी बिल्डिंग के रूप में कराया गया है। लाभार्थियों का चयन व सत्यापन जिला नगरीय विकास अभिकरण (डूडा) की तरफ से किया गया है।

शानदार अपार्टमेंट के खूबसूरत फ्लैट्स

जीडीए द्वारा सारे आवास एक शानदार अपार्टमेंट के खूबसूरत फ्लैट के रूप में विकसित किए गए हैं। आरसीसी फ्रेम पर चारमंजिला निर्माण सीलन प्रूफ है। सभी आवास फ्लोर टाइल्स से सुसज्जित हैं तो दीवारों पर प्लास्टर के बाद अपेक्स वेदर कोटिंग भी कराई गई है।

आवंटन में सबका साथ, सबका विकास का फार्मूला

मानबेला में बने पीएम आवास आवंटन में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की मंशा के अनुरूप सबका साथ, सबका विकास के फार्मूले का ध्यान रखा गया है। अब तक आवंटित 1425 आवासों में 281 अनुसूचित जाति, 12 अनुसूचित जनजाति, 394 अन्य पिछड़ा वर्ग तथा 738 सामान्य वर्ग के पात्र लोगों को दिए गए हैं। यही नहीं सभी वर्गों में कुल मिलाकर दस प्रतिशत आवास (149) मुस्लिम अल्पसंख्यक समुदाय को आवंटित किए गए हैं।

आवंटियों को मुफ्त वाईफाई की सुविधा भी जल्द

पीएम आवास योजना (शहरी) से मानबेला में बने आवासों के आवंटियों को बहुत जल्द मुफ्त वाईफाई की भी सुविधा मिलने लगेगी। जीडीए उपाध्यक्ष की पहल पर वाईफाई सेवा प्रदाता कम्पनी जिओ ने इसके लिए सहमति दे दी है। वाईफाई इंस्टालेशन का काम शीघ्र ही हो जाएगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button