Flash Newsउत्तर प्रदेशकानपुर

प्रिसिंपल ने हॉस्टल पर मारा छापा, कमरा खुला तो रह गए हैरान, 6 इंटर्न सस्‍पेंड

कानपुर : कानपुर के जीएसवीएम मेडिकल कॉलेज के हॉस्टल में कमरा बंद करके शराब पार्टी कर रहे छह इंटर्न मेडिकल छात्रों को निलम्बित कर दिया गया है। तीन महीने के लिए फिलहाल निलम्बन रहेगा। हालांकि पूरे सत्र के लिए हास्टल से निष्कासित कर दिए गए हैं। 10 से 15 हजार रुपए जुर्माना भी लगा है।

मेडिकल कॉलेज प्रशासन ने छात्रों की अनुशासनहीता पर कड़ी कार्रवाई की है। दरअसल ब्वायज हास्टल 4 में एक कमरा बंद करके कुछ छात्र शराब पी रहे थे। उसकी सूचना प्रॉक्टोरियल बोर्ड को मिली तो प्राचार्य की अध्यक्षता में टीम ने छापेमारी की। उस समय एक कमरा बंद था और बाहर से ताला लगा हुआ था। ताला खुला तो छह छात्र मिले, सभी शराब की बोतल और सिगरेट के साथ थे। बियर की खाली केन भी मिली।

इस मामले को गम्भीरता से लिया गया। तत्काल उनके कमरे में ताला लगा दिया। और प्रॉक्टर प्रो. यशवंत राव की अध्यक्षता में जांच कमेटी बना दी। कमेटी ने कड़ी कार्रवाई करने और निलम्बन पर अपनी संस्तुति दी। उस पर मंगलवार को प्राचार्य प्रो. संजय काला ने मोहर लगा दी।

प्रो. काला का कहना है कि निलम्बन और हास्टल निष्कासन के साथ जिस छात्र के कमरे में शराब पार्टी चल रही थी उस पर 15 हजार रुपए का जुर्माना भी लगाया है। साथ ही अन्य आरोपी छात्रों पर 10 हजार रुपए जुर्माना लिया जाएगा। उनके कमरे में पहले ही ताला लगा दिया गया था। प्रो. काला का कहना है कि हास्टल में अनुशासनहीनता की जगह नहीं है। सभी छात्रों की हरकतों पर नजर रखी जा रही है।

सीएसए में रैगिंग के बाद छात्र दहशत में

चंद्रशेखर आजाद कृषि एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय (सीएसए) में रविवार देर रात रैगिंग के बाद छात्र दहशत में हैं। कुछ छात्रों के पलायन की भी चर्चा है। जूनियर छात्रों से बातचीत में सामने आया है कि देर रात सीनियर छात्र पहले एमसीबी गिराकर अंधेरा करते थे और फिर हॉस्टल में दीवार फांद कर प्रवेश करते थे। एक छात्र ने बताया कि उससे सीनियर ने अभद्रता की और पीटा।

मुर्गा बनाने का भी आरोप लगाया। मंगलवार को घटना की जांच के लिए कमेटी गठित की गई है। अधिकारियों ने बताया कि आरोपित छात्रों की पहचान हुई है। मोबाइल जब्त किए गए हैं। घटना तिलक छात्रावास की है। यहां बीएससी कृषि प्रथम वर्ष के छात्र रहते हैं। वार्डन उन छात्रों को समझाकर रोक रहे हैं जो खौफ में घर जाना चाहते हैं। मीडिया प्रभारी डॉ. खलील खान ने बताया कि जो भी छात्र इसमें शामिल थे, उनके खिलाफ कमेटी एक्शन की संस्तुति करेगी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button