Flash Newsउत्तर प्रदेशकानपुरन्यूज़

BJP नेता की सपा नेता ने की पिटाई, गिरफ्तारी की मांग को लेकर धरने पर बैठे विधायक

फतेहपुर. उत्तर प्रदेश के फ़तेहपुर जिले में भाजपा नेता पर कथित रूप से जानलेवा हमले (BJP Leader Attacked) का मामला सामने आया है. खबर है कि भाजपा नेता की लात-घूंसों और असलहों के बट से जमकर पिटाई की गई. यह घटना थाना कोतवाली क्षेत्र के जिला अस्पताल के पास की है.

पीड़ित का आरोप है कि घटना के समय वहां मौजूद पुलिस मूकदर्शक बनी रही. हमला का आरोप समाजवादी पार्टी के नेता हाजी रज़ा व उनके समर्थकों पर लगा है. पुलिस ने इस मामले में सपा नेता सहित उनके समर्थकों पर बलवा, हत्या के प्रयास और लूट का मुकदमा दर्ज कर लिया है.

वहीं भाजपा नेता पर हुए हमले का सीसीटीवी फुटेज को देखकर भाजपा के सदर विधायक विक्रम सिंह भड़क गए, जिसके बाद विधायक विक्रम सिंह अपने समर्थकों के साथ थाने पहुंचकर हमलावरों की गिरफ्तारी की मांग पर अड़ गए. जब देर शाम तक गिरफ्तारी नहीं हुई तो पुलिस की कार्रवाई से नाराज भाजपा विधायक समर्थकों के साथ थाना कोतवाली में धरने पर बैठ गए.

सदर विधायक विक्रम सिंह ने कहा, ‘भाजपा राज में भाजपा के ही कार्यकर्ता समाजवादी गुंडों के द्वारा मारे-पीटे जाएं तो मुझे यह कत्तई बर्दास्त नहीं है. मैंने घटना के तुरंत बाद ही पुलिस अधिकारियों से कार्रवाई और गिरफ्तारी के लिए निवेदन किया, लेकिन पुलिस अफसरों ने तत्काल कोई कार्रवाई नहीं की.

तत्काल कार्रवाई न करने के कारण अब यह समस्या है कि मैं तब तक धरने से नहीं हटूंगा, जब तक हमलावर जेल में सलाखों के पीछे नहीं चला जाता है.भाजपा विधायक ने दावे से कहा कि जनपद के अंदर अपराध को समाप्त करने का यह व्यक्ति वो सबसे बड़ा किला है, जिसके ढेर होने पर जनपद के न जाने कितने लोग राहत की सांस लेंगे.

उन्होंने कहा कि मैं पिछले दो सालों से इस हिस्ट्रीशीटर के खिलाफ़ कार्रवाई के लिए शासन को पत्र लिख रहा हूं, लेकिन पुलिस अधिकारी मेरे पत्र के जवाब में राजनीतिक द्वेष भावना बताकर रिपोर्ट भेज रहे हैं. वहीं बीजेपी नेता को धरने से उठाने के लिए रात करीब 12 बजे एसपी राजेश कुमार सिंह के साथ डीएम अपूर्वा दुबे भी कोतवाली पहुंचीं. अधिकारियों की लाख मिन्नतें और कार्रवाई के आश्वासन के बाद भाजपा विधायक धरने से उठे.

‘रोड पर गला दबाकर जान से मारने की कोशिश की’

वहीं पीड़ित भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा के क्षेत्रीय मीडिया प्रभारी फैजान रिजवी ने बताया कि सोमवार की दोपहर करीब तीन बजे वह जिला अस्पताल के पास पार्टी कार्यकर्ता इमरान से बातचीत कर रहे थे. तभी नगर पालिका चेयरमैन प्रतिनिधि व सपा नेता हाजी रजा, सभासद राहत, जुनैद उर्फ जुन्ना, गुलाम, शमशाद समेत 15-20 लोग आए. बीजेपी का प्रचार-प्रसार किए जाने की खुन्नस में उन्होंने हमला किया और उन्हें दौड़ा-दौड़ाकर पीटा.

पीड़ित के मुताबिक आरोपी हाजी रजा सदर कोतवाली का हिस्ट्रीशीटर है. उसने सरेआम चाकू से हमला किया है. रोड पर गला दबाकर जान से मारने की कोशिश की. जब वह होटल में जान बचाने के लिए घुसे तो होटल से बाहर घसीटकर लाए और जेब से करीब 14 हजार रुपये लूटकर लाइसेंसी और अवैध असलहों की बट से पीटा.

इस संबंध में जाफरगंज थाने के सीओ दिनेश चंद्र मिश्रा ने बताया कि इस मामले में भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा के क्षेत्रीय मीडिया प्रभारी फैजान रिजवी की तहरीर पर थाना कोतवाली में आरोपी चेयरमैन प्रतिनिधि हाजी रजा, सभासद राहत, शमशाद, जुनैद उर्फ जुन्ना, गुलाम व 15-20 अज्ञात हमलावरों के खिलाफ बलवा, हत्या के प्रयास और लूट की धाराओं में केस दर्ज किया गया है.

हमलावरों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस की टीमें दबिश दे रही हैं. इस घटना से जुड़े हमलावरों के खिलाफ गुंडा एक्ट के तहत भी कार्रवाई की जाएगी. वहीं डीएम अपूर्वा दुबे ने बताया कि भाजपा नेता के साथ हांथापाई की घटना को लेकर की जा रही कार्रवाई से विधायक विक्रम सिंह नाराज थे.

वह थाना कोतवाली में अपने समर्थकों के साथ धरने पर बैठे थे. मैं खुद आकर उनसे मिली हूं और दोषियों पर कार्रवाई का आश्वासन दिया है, जिसके बाद बीजेपी विधायक ने धरना खत्म कर दिया है. वहीं भाजपा विधायक विक्रम सिंह ने कहा कि अगर हमलावरों की जल्द ही गिरफ्तारी नही हुई मैं फिर से धरने पर बैठूंगा.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button