Flash Newsन्यूज़राष्ट्रीय

शूरवीरों का सम्मान: पाकिस्तानी F-16 लड़ाकू विमान मार गिराने के लिए ग्रुप कैप्टन अभिनंदन वीर चक्र से सम्मानित, मेजर ढौंडियाल को शौर्य चक्र

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने सोमवार को भारतीय वायुसेना के ग्रुप कैप्टन अभिनंदन वर्धमान को वीर चक्र से सम्मानित किया. बालाकोट एयरस्ट्राइक के एक दिन बाद पाकिस्तानी वायुसेना के F-16 लड़ाकू विमान को मार गिराने वाले विंग कमांडर (तब) अभिनंदन वर्धमान को इसी महीने पदोन्नत किया गया था. अभिनंदन को वीर चक्र दिए जाने का ऐलान पहले ही किया जा चुका था. इससे पहले उन्हें पाकिस्तानी हवाई घुसपैठ को रोकने के लिए शौर्य चक्र से सम्मानित किया जा चुका है.

अभिनंदन के अलावा सैपर प्रकाश जाधव को मरणोपरान्त कीर्ति चक्र से सम्मानित किया गया. उन्हें जम्मू-कश्मीर में आतंकियों को मार गिराने में ऑपरेशन में भूमिका निभाने के लिए पुरस्कार दिया गया. राष्ट्रपति कोविंद ने उनकी पत्नी और मां को यह पुरस्कार सौंपा. वहीं मेजर विभूति शंकर ढौंडियाल को भी मरणोपरान्त शौर्य चक्र से सम्मानित किया गया. उन्हें यह पुरस्कार पांच आतंकियों को मार गिराने और 200 किलोग्राम विस्फोटक बरामद करने के ऑपरेशन में भूमिका निभाने के लिए दिया गया.

शहीद नायब सूबेदार सोमबीर को जम्मू-कश्मीर में ऑपरेशन के दौरान A++ कैटगरी के आतंकवादी को मार गिराने के लिए शौर्य चक्र से सम्मानित किया गया. उनकी पत्नी और मां ने राष्ट्रपति से इस पुरस्कार को प्राप्त किया. इस समारोह के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और रक्षामंत्री राजनाथ सिंह भी मौजूद थे. रिजर्व पुलिस बल के हर्षपाल सिंह को कीर्ति चक्र से सम्मानित किया गया. इसके अलावा अनिल चावला, हरजीत सिंह अरोड़ा, ले. जनरल रनबीर सिंह, संजीव कुमार श्रीवास्तव, ले. जनरल अमरजीत सिमह बेदी, मेजर जनल परम विशिष्ट सेवा मेडल से सम्मानित किया गया.

अभिनंदन वर्धमान की बहादुरी को देश भर में मिला सम्मान 

पाकिस्तान के जैश-ए-मोहम्मद आतंकवादी संगठन के एक आत्मघाती हमलावर ने 14 फरवरी, 2019 को पुलवामा जिले में सीआरपीएफ के काफिले पर हमला किया था, जिसमें 40 जवान शहीद हो गए थे. इसके बाद भारत ने 26 फरवरी को बालाकोट में जैश-ए-मोहम्मद के प्रशिक्षण शिविर पर हवाई हमला किया था. इस दौरान 27 फरवरी को एलओसी की तरफ बढ़ रहे पाकिस्तान के F-16 लड़ाकू विमान को वापस भेजने में अभिनंदन ने बड़ी भूमिका निभाई थी.

पाकिस्तानी एफ-16 विमान से डॉगफाइट करते हुए विंग कमांडर अभिनंदन का मिग-21 बाइसन विमान दुर्घटना का शिकार हो गया था और वह पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर (पीओके) सीमा में पहुंच गए थे, जहां पैरासूट की मदद से लैंडिंग की थी. पाकिस्तान के लोगों ने उनपर हमला बोल दिया था. बाद में कमांडर अभिनंदन को पाकिस्तान के फौजियों ने पकड़ लिया था और उसने अभिनंदन का एक वीडियो जारी किया था, जिसमे वो आंखों पर पट्टी बांधे और खून से लथपथ नजर आ रहे थे. दो दिन बाद 1 मार्च 2019 को पाकिस्तान ने उन्हें भारत को सौंप दिया था.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button