सबकी खबर.. सब पर नजर

77 हजार से अधिक ग्राम पंचायत सदस्य पदों पर दाखिल ही नहीं हुए पर्चे

0 34
लखनऊ (HM News) l  उत्‍तर प्रदेश में हो रहे पंचायत चुनाव में ग्राम पंचायत सदस्य यानि पंच बनने के लिए ग्रामीण जनप्रतिनिधियों में उत्साह नहीं दिख रहा। पहले चरण के लिए 18 जिलों में जो नामांकन पत्र दाखिल किये गये उनमें ग्राम पंचायत सदस्य के 186583 ग्राम पंचायत सदस्य पदों के लिए महज 108994 नामांकन किए गए यानि 77, 589 पदों के लिए नामांकन दाखिल ही नहीं किये गये।

बड़ी संख्या में निर्विरोध चुने जाएंगे

इनमें से भी 1505 नामांकन रद्द होने तथा 206 उम्मीदवारों द्वारा नामांकन वापस लेने के फलस्वरूप अब महज 107283 उम्मीदवार चुनाव मैदान में हैं। इनमें से भी बड़ी संख्या में पदों पर एक ही नामांकन दाखिल होने की वजह से निर्विरोध पंच चुन लिए जाएंगे यानि चुनावी मुकाबला होगा ही नहीं।

फंसेगा नयी ग्राम पंचायत का गठन

जिन ग्राम पंचायतों में बड़ी तादाद में ग्राम पंचायत सदस्य के पदों के लिए नामांकन दाखिल नहीं हो सके हैं वहां नयी ग्राम पंचायत का गठन ही अधर में फंसेगा और ऐसी सूरत में ग्राम प्रधान पद का जीता हुआ उम्मीदवार तब तक ग्राम प्रधान नहीं बन पाएगा जब तक उस ग्राम पंचायत में पंच के दो तिहाई पद भर नहीं जाते। राज्य निर्वाचन आयोग को ऐसी ग्राम पंचायतों में इन चुनावों के सम्पन्न होने के तत्काल बाद उपचुनाव करवाने पड़ेंगे।

पिछली पर पंच के 18.6 फीसदी पदों पर ही हुआ था चुनाव

आयोग के अपर निर्वाचन आयुक्त वेद प्रकाश वर्मा के अनुसार हर बार पंचायत चुनाव में ग्राम पंचायत सदस्य के तमाम पद खाली रह जाते हैं। श्री वर्मा के अनुसार वर्ष 2015 में हुए पंचायत चुनाव में ग्राम पंचायत सदस्य के पद पर 57 प्रतिशत निर्विरोध पंच चुने गये थे। 18.6 प्रतिशत पदों पर चुनाव हुआ था और बाकी पद खाली रह गये थे। उन्होंने बताया कि अधिकांशत: अनुसूचित जनजाति के लिए आरक्षित घोषित ग्राम पंचायतों में ही ग्राम पंचायत सदस्य के उम्मीदवार नहीं मिल पाते, इसलिए पद खाली रह जाते हैं।

जिला पंचायत सदस्य के पदों पर बम्पर दावेदारी

आयोग से मिली जानकारी के अनुसार 779 जिला पंचायत सदस्य के पदों के लिए कुल 12157 नामांकन प्राप्त हुए थे जिसमें 233 नामांकन रद्द होने तथा 175वापसी होने के फलस्वरूप 11749 उम्मीदवार चुनाव मैदान में हैं। इसी प्रकार 19313 क्षेत्र पंचायत सदस्य पद के लिए कुल 73954 नामांकन हुए थे जिसमें 1401 नामांकन रद्द होने एवं 1135 नामांकन वापस होने के फलस्वरू 71418 उम्मीदवार चुनाव के मैदान में हैं।

ग्राम प्रधान के पदों पर भी कई गुना ज्यादा हुए नामांकन

14789 ग्राम प्रधान पद के लिए 114954 नामांकन प्राप्त हुए थे जिसमें 3291 नामांकन रद्द होने एवं 3101 उम्मीदवारों द्वारा नाम वापस लिए जाने के फलस्वरूप 108562 उम्मीदवार चुनाव केमैदान में हैं।
पहले चरण में 15 अप्रैल को जिन 18 जिलों में मतदान होना है, वह हैं- अयोध्या, आगरा, कानपुर नगर, गाजियाबाद, गोरखपुर, जौनपुर, झांसी, प्रयागराज, बरेली, भदोही, महोबा, रामपुर,रायबरेली, श्रावस्ती, संत कबीर नगर, सहारनपुर, हरदोई एवं हाथरस।a
Banner index Sidebar – 160 x 670

Leave A Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More