योगी के गढ़ से रविकिशन व अम्बेडकरनगर से मुकुट बिहारी को मिला टिकट, BJP ने जारी की उम्मीदवारों की एक और सूची

0
372

Lucknow (HM News) : उत्तर प्रदेश में बीजेपी ने पूर्वांचल की आठ लोकसभा सीटों पर उम्मीदवारों के नामों का ऐलान कर दिया है. योगी आदित्यनाथ ने अपने गृह जनपद गोरखपुर लोकसभा सीट पर एक बार फिर ब्राह्मण दांव खेला है. बीजेपी ने भोजपुरी फिल्म स्टार रवि किशन को प्रत्याशी बनाया है.

जबकि माना जा रहा था कि गोरखपुर के मौजूदा सांसद प्रवीण निषाद को पार्टी अपना उम्मीदवार बनाएगी, लेकिन पार्टी ने संतकबीर नगर सीट से शरद त्रिपाठी का टिकट काटकर उन्हें प्रत्याशी बनाया है. हाल ही में प्रवीण निषाद सपा छोड़कर बीजेपी में शामिल हुए थे.

बीजेपी ने आठ प्रत्याशियों के नामों का ऐलान किया है. इसमें प्रतापगढ़ से संगम लाल गुप्ता, अंबेडकर नगर से मुक्त बिहारी, संतकबीर नगर से प्रवीण निषाद, गोरखपुर से रवि किशन, देवरिया से रमापति राम त्रिपाठी, जौनपुर से केपी सिंह और भदोही से रमेश बिंद के नाम शामिल हैं.

दिलचस्प बात ये है कि बीजेपी ने संतकबीर नगर सीट से मौजूदा सांसद शरद त्रिपाठी का टिकट काट दिया है. हालांकि पार्टी ने उनकी जगह उनके पिता रमापति राम त्रिपाठी को देवरिया सीट से प्रत्याशी बनाया है. देवरिया से मौजूदा सांसद कलराज मिश्र पहले ही लोकसभा चुनाव लड़ने से मना कर चुके हैं.

ऐसे में कलराज मिश्र की जगह पार्टी ने रमापति राम त्रिपाठी पर दांव लगाया है.इसके अलावा अंबेडकर नगर सीट से  मौजूदा सांसद हरिओम पांडेय का टिकट काटकर मुक्त बिहारी को उतारा है. भदोही सीट के मौजूदा सांसद वीरेंद्र सिंह मस्त को पहले ही पार्टी बलिया से उतार चुकी है. ऐसे में भदोही से रमेश बिंद को उतारा है.

इसके अलावा प्रतापगढ़ लोकसभा सीट पिछले चुनाव में अपना दल के पास थी. इस बार अपना दल के संगम लाल गुप्ता कमल के निशान पर चुनावी मैदान में उतरेंगे. संगम लाल गुप्ता फिलहाल प्रतापगढ़ सदर से अपना दल के विधायक हैं. संगम लाल अनुप्रिया के करीबियों में शामिल हैं, जबकि 2014 में अपना दल से हरिवंश सिंह प्रतापगढ़ से सांसद चुने गए थे.

गोरखपुर लोकसभा सीट बीजेपी की परंपरागत सीट मानी जाती थी. लेकिन योगी आदित्यनाथ के यूपी के सीएम बनने के बाद लोकसभा सदस्यता से उन्होंने इस्तीफा दे दिया था. इसके 2018 में हुए उपचुनाव में बीजेपी ने उपेंद्र दत्त शुक्ला को मैदान में उतारा था और सपा ने प्रवीण निषाद पर दांव लगाया.

बसपा के समर्थन से सपा के प्रवीण निषाद ने बीजेपी के उपेंद्र शुक्ला को मात देकर कब्जा जमाया.  लेकिन  इस बार के लोकसभा चुनाव में प्रवीण निषाद ने सपा का साथ छोड़कर बीजेपी में शामिल हो गए हैं. लेकिन पार्टी ने उन्हें गोरखपुर सीट के बजाय संतकबीर नगर सीट से उम्मीदवार बनाया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.