सावधान! किछौछा में बढ़ रहा कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या, नगरवासियों में दहशत का माहौल, जिम्मेदार मौन

0
404
  • सावधान! किछौछा में बढ़ रहा कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या, नगरवासियों में दहशत का माहौल, जिम्मेदार मौन

अंबेडकरनगर। चीन के वुहान शहर से फैला कोरोना वायरस भारत को ही नहीं पूरी दुनियां को दहशत की जिंदगी जीने पर मजबूर कर दिया है लेकिन युद्ध स्तर की तैयारी के साथ केंद्र से लेकर प्रदेश की सरकारें कोरोना वायरस को मत देने के लिए लगी हुई है जहां एक तरफ पूरा भारत कोरोना वायरस से लड़ रहा हैं, मरीजों की संख्या बढ़ी हैं तो वही काफी राहत की बात है कि मरीज ठीक भी हो रहे हैं।
फिलहाल अभी इससे निजात पाने के लिए कोई वैकेंसी तैयार नहीं हो सकी है लेकिन भारत ही नहीं पूरी दुनिया वैक्सीन बनाने में लगी हुई है। जिला प्रशासन की निष्क्रियता और चिकित्सा विभाग की लापरवाही के कारण यहां पर मरीजों की संख्या अब बढ़ती हुई नजर आ रही है जबकि यह जिला एक नजरिए से सुरक्षित माना जा रहा था लेकिन अब मरीजों की और मौत की संख्या बढने लगी है।
वर्तमान मे सक्रिय कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या 52 और कोरोना से हुई मौत की संख्या 8 हो गई है। हैरान और परेशान करने वाली बात यह है कि जिन क्षेत्रों में आज तक एक मरीज नहीं थे, अब वहां भी मरीज निकलने लगे हैं।
नगर पंचायत अशरफपुर किछौछा को लिया जाय तो बीते दिनों एक व्यक्ति में कोरोना पॉजिटिव होने की पुष्टि हुई थी जिसे लेकर क्षेत्र में चर्चा का माहौल गर्म था और लोगों में दहशत बना हुआ था, उस एरिया को सील किया गया।
वहीं ताजा मामला तब सामने आया जब एक महिला में कोरोना पाॅजिटिव होने का मामला प्रकाश में आया लेकिन अभी तक यहां पर नियमानुसार एरिया को सील नहीं किया गया और न ही जोन घोषित किया गया और उससे भी ज्यादा परेशानी और दहशत जिंदगी जीने के लिए मजबूर तब लोग हो रहे हैं जब यह मरीजों की पुष्टि के बाद इनके संपर्क में आए लोगों की अभी तक न ही कोई जांच की गई और न ही उन्हें चिन्हित किया गया।
क्षेत्र में चर्चा का विषय है कि यह दोनों मरीज बस्ती जिले से होकर अपने घर आए थे और इन मरीजों का इलाज भी किसी स्थानीय डॉक्टर कर रहे थे, इनके संपर्क में आने वालों की अभी तक कोई पहचान नहीं किया जा सका है।
पूर्व और वर्तमान के मरीज दोनों की स्थिति यही है यह मरीज किन-किन डॉक्टरों के पास इलाज के लिए गए और किन-किन लोगों के संपर्क में आए। ऐसे लोगों को अभी तक चिन्हित नहीं किया जा सका है और न ही उनकी जांच किया गया जिसे लेकर क्षेत्र में भयावह की स्थिति बनी हुई है।

Report : Hindmorcha Team Ambedkarnagar 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.