बेबी प्लान कर रहे हैं तो ठहर जाइए! COVID-19: अगर आप फैमिली प्लानिंग की सोच रहे हैं तो हो जाइए सावधान!

0
560
लखनऊ (HM News). पूरे देश में फैलते कोरोना वायरस (coronavirus) के संक्रमण के दौरान अगर नए दंपत्तियों फैमिली प्लानिंग को लेकर कुछ सोच रहे हैं तो जरा हो जाइए सावधान. शहर के चिकित्सकों की माने तो कोरोना संक्रमण को लेकर नए जोड़ों में परिवार बढ़ाने को लेकर संशय की स्थिति है.
कुछ दंपत्ति बेबी प्लान कर चुके हैं, वो कोरोना के मद्देनजर बच्चे के स्वास्थ्य और सुरक्षा को लेकर काफी चिंतित हैं, तो कहीं कुछ दंपति बेबी प्लान करना चाहते हैं लेकिन कोरोना संक्रमण के डर से कंफ्यूजन में हैं.

बेबी प्लान कर रहे हैं तो ठहर जाइए

राजधानी लखनऊ के डॉ राम मनोहर लोहिया आयुर्विज्ञान संस्थान में कार्यरत वरिष्ठ डॉ सुदर्शन विजय का कहना है कि जो नए जोड़े इस समय बेबी प्लान करने की सोच रहे हैं, तो वह इस फेज को गुजर जाने दें. कई शोधों में सर्दियों में फिर यह वायरस सक्रिय होने का दावा किया गया है. कपल्स अभी कंसीव करेंगे तो डिलीवरी ठंड के दौरान होगी. वायरस का संक्रमण सर्दियों में फैला तो बच्चे की डिलीवरी के दौरान परेशानियां हो सकती हैं.
इसलिए अभी बेबी प्लान करने से बचें. जो महिलाएं गर्भवती हैं वह अपने स्वास्थ्य का ख्याल रखें. अभी तक वर्टिकल ट्रांसमिशन जिसमें मां के कोरोना पॉजिटिव होने पर बच्चा भी कोरोना पॉजिटिव होगा के मामले सामने नहीं आए हैं. कई गर्भवती कोरोना पॉजिटिव महिलाओं के स्वस्थ बच्चे को जन्म देने के मामले सामने आए हैं.
असल में गर्भवती महिलाओं के भ्रूण पर कोरोना वायरस का कोई प्रभाव पड़ता है. इसकी पुष्टि नहीं हुई है. ऐसे में ऐसे गर्भवती अपने स्वास्थ्य का ख्याल रखें और बचाव के तरीके पूरी तरह फॉलो करें.

इन खास चीजों का रखें ख्याल

डॉ सुदर्शन विजय का कहना है कि जो लोग लॉकडाउन में साथ रहने के दौरान अपने साथी के करीब आना चाहते हैं वह संबंध बना सकते हैं. चूंकि पति-पत्नी या उनका पार्टनर एक ही वातावरण में रह रहे हैं ऐसे में शारीरिक संबंध बनाने में कोई दिक्कत नहीं है. यदि आप बराबर घर से बाहर निकलते हो तो कोशिश करे अपने पार्टनर को सुरक्षित रखने के लिए ओरल सेक्स व चुम्बन से बचे.
जो लोग लिव इन रिलेशन में हैं और मल्टीपल पार्टनर के संपर्क में हैं वह शारीरिक संबंधों से फिलहाल दूरी बनाएं। आपको यह नहीं पता है कि कौन व्यक्ति कैरियर है ऐसे में खुद की सुरक्षा और अपने साथी की सुरक्षा का ध्यान रखें। जो लोग अपनी पत्नी के साथ संबंध बना रहे हैं और जरूरी काम के लिए घर से बाहर निकल रहे हैं वह मास्क पहन कर निकलें। सैनिटाइजर अपने पास रखें। साथ ही डब्ल्यूएचओ की गाइडलाइन्स को फॉलो करें।

गर्भवती महिला को मिलता है मेंटल सपोर्ट

राजधानी लखनऊ के सिविल अस्पताल की वरिष्ठ चिकित्सक डॉ अनीता नेगी का कहना है कि ऐसे समय में भी कपल्स बेबी प्लान कर सकते हैं. लॉक डाउन के दौरान यदि आप एक वातावरण में साथ रह रहे है तो कोई समस्या नहीं है. बेबी कंसीव करने के शुरुआती हफ्ते में शरीर मे तमाम विकार आते है. दर्द और चिड़चिड़ापन दोनों होता है. ऐसे में अगर आपका पार्टनर पूरे टाइम साथ है तो काफी मेंटल सपोर्ट गर्भवती महिला को मिलता है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.