अस्पताल में तफरी कर रहे तब्लीगी को डीएम ने भेजा जेल

0
268
वाराणसी (HM News ) : दीनदयाल उपाध्याय राजकीय अस्पताल में बने आइसोलेशन वार्ड में रखे गए तब्लीगी जमात से जुड़े लोगों का दु‌र्व्यवहार बढ़ता जा रहा है। कभी कीवी फल व कबाब की मांग को लेकर हंगामा कर रहे तो कभी घर जाने की जिद को लेकर अड़ जा रहे।
जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा रविवार को जब डीडीयू अस्पताल पहुंचे तो तब्लीगी जमात से जुड़ा एक युवक दूसरे वार्ड में जाकर नमाज पढ़ रहा था। इस बीच वहां मौजूद नर्स ने बताया कि कई बार मना करने पर भी तब्लीगी जमात से जुड़े लोग अपने बेड पर नहीं रह रहे। कभी पानी तो कभी किसी और बहाने दूसरे वार्ड में घूम रहे और इधर-उधर थूक रहे। मना करने पर दु‌र्व्यवहार कर रहे।
इसकी शिकायत सीएमएस से भी की गई। इतना सुनते ही डीएम का पारा चढ़ गया। पता चला कि उसकी रिपोर्ट भी निगेटिव आ चुकी है। डीएम ने तत्काल उसके खिलाफ कैंट थाने में मुकदमा कायम कर जेल भेजने का आदेश दिया।
कैंट पुलिस ने उसके खिलाफ धारा 151 के तहत कार्रवाई करते हुए जेल भेज दिया। निर्देश दिया कि उसे अलग बैरक में रखा जाए। गिरफ्तार युवक जहीर मछोदरी इलाके का रहने वाला बताया जा रहा है। सीओ कैंट ने बताया कि उसकी ट्रैवल हिस्ट्री भी निकाली जा रही है।
जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा जब अस्पताल पहुंचे तो देखा कई तब्लीगी अपने बेड पर नहीं थे। कुछ दूसरे वार्डो में तफरी कर रहे थे तो कुछ एक ही बेड पर इकट्ठा होकर बात कर रहे थे। शारीरिक दूरी के मानक की भी धज्जियां उड़ा रहे थे।
डाक्टरों के टोकने के बाद भी मानक का पालन नहीं करने की जानकारी पर डीएम भड़क गए। तब्लीगी जमात से जुड़े लोगों को चेतावनी दी कि अपनी आदत में सुधार लाएं अन्यथा कानूनी कार्रवाई को बाध्य होंगे। डीएम का कड़ा रूख देखकर तब्लीगी अपने-अपने बेड पर गए।
डीएम ने चेताया कि उपचार में लगी चिकित्सकों की टीम से दु‌र्व्यवहार किया तो जिनकी भी रिपोर्ट निगेटिव आएगी उनके खिलाफ रासुका, महामारी एक्ट समेत अन्य गंभीर धाराओं में कार्रवाई करते हुए जेल भेजा जाएगा। 22 तब्लीगियों की रिपोर्ट निगेटिव
जिलाधिकारी ने बताया कि जमात में शामिल 29 में से 22 की रिपोर्ट निगेटिव आ चुकी है। पांच तब्लीगी जमाती की रिपोर्ट सोमवार को मिलने की संभावना है। जिनकी रिपोर्ट अभी नहीं आई है उन्हें डीडीयू अस्पताल में रखा गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.