3 बड़ी सरकारी जनरल इंश्योरेंस कंपनियों का होगा विलय! क्या होगा ग्राहकों और कर्मचारियों पर असर.. जानिए

0
148
नई दिल्ली (Agency). देश की तीन बड़ी सरकारी जनरल इंश्योरेंस कंपनियों (PSU General Insurance Companies) के मर्जर यानी विलय पर कैबिनेट की बैठक में फैसला हो गया है. CNBC आवाज़ को सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, सरकार, नेशनल इंश्योरेंस कंपनी (National Insurance Company), यूनाइटेड इंडिया इंश्योरेंस कंपनी (United India Insurance Company) और ओरिएंटल इंडिया इंश्योरेंस कंपनी (Oriental India Insurance Company) को मिलाकर एक कंपनी बनाएगी.
इस मर्जर के बाद यह देश की सबसे बड़ी जनरल इंश्योरेंस कंपनी (General Insurance) बन जाएगी. वित्त मंत्रालय (Finance Ministry) ने इसको लेकर हाल में कैबिनेट नोट जारी किया था. आपको बता दें कि प्रीमियम के हिसाब से तीनों कंपनियों को मिलाकर 25 फीसदी प्रीमियम का हिस्सा सिर्फ तीनों कंपनियों से आता है.
ग्राहकों पर क्या होगा असर- एक्सपर्ट्स बताते हैं इस फैसले से ग्राहकों पर खास असर नहीं होगा. उनकी पॉलिसी पर मिलने वाले फायदे वैसे ही बरकरार रहेंगे. साथ ही, कुछ और सुविधाएं उनको मिल सकती हैं. मान लीजिए अगर नेशनल इंश्योरेंस कंपनी बीमे के साथ कोई सुविधा देती है तो मर्जर के बाद यूनाइटेड इंडिया इंश्योरेंस कंपनी और ओरिएंटल इंडिया इंश्योरेंस कंपनी के ग्राहकों को भी उसका फायदा मिलेगा.
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, कर्मचारियों पर भी इसका खास असर नहीं होगा. क्योंकि, सरकार ने साफ किया हैं कि ब्रांच घटाने की कोई योजना नहीं है.
तीनों कंपनियों के विलय से क्या होगा- मर्जर के बाद बनेगी देश की सबसे बड़ी जनरल इंश्योरेंस कंपनी- इन कंपनियों के पास संयुक्त रूप से 9,243 करोड़ रुपये की प्रॉपर्टी है. कर्मचारियों की संख्या 44,000 है जो देशभर में स्थित 6,000 से अधिक कार्यालयों में काम कर रहे हैं.
रिपोर्ट्स के मुताबिक, विलय के बाद बनने वाली संयुक्त इकाई देश की सबसे बड़ी गैर-जीवन बीमा कंपनी होगी, जिसका मूल्य 1.25 से 1.5 लाख करोड़ रुपये होगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.