ऐसे खाएं लहसुन तो पार्टनर भी रहेगा खुश और इन बिमारियों में भी है फायदेमंद

0
585
New Delhi (Agency): वैसे तो लहसुन के फायदों (Garlic Benefits) के बारे में आपने काफी कुछ पढ़ा-सुना होगा लेकिन लहसुन का इस तरह सेवन करेंगे तो इसका और भी अधिक फायदा होगा। यूं तो काफी ऐसी कुदरती चीजें हैं जिनका इस्तेमाल करने से शरीर को फायदा होता है और पावर बढ़ती है।
लेकिन जरूरी यह होता है कि उन चीजों का इस्तेमाल कैसे किया जाए या फिर उन चीजों का सेवन किस प्रकार से किया जाए। एक्सपर्ट और शोधकर्ताओं की मानें तो लहसुन (Garlic Benefits) जतिना अधिक पुराना होता है या अंकुरित होता है, उसका फायदा उतना ही अधिक होता है।

कई शोधों में माना जा चुका है कि लहसुन के सेवन से कोलेस्ट्रॉल, ब्लड प्रेशर, दिल के रोग और कैंसर आदि समस्याओं के उपचार में आसानी होती है। इस शोध में पाया गया है कि पुराने लहसुन के सेवन से इनसे निपटने में और अधिक आसानी होती है। पावर बढ़ाने के लिए लहसुन से ज्यादा कारगर (Garlic Benefits) शायद ही कोई चीज होगी। पावर बढ़ाने के लिए आपको दिन में दो बार लहसुन खानी होती है।

इन बिमारियों से भी बचाता है लहसुन

लहसुन खाने से हाई बीपी से जुड़ी समस्या को कम किया जाता हैं । लहसुन ब्लड सर्कुलेशन को कंट्रोल करने में काफी कारगार होता है। जिन लोगों को हाई ब्लड प्रेशर हैं वह लहसुन का सेवन करके इस समस्या से छु़टकारा पा सकते है।
Garlic लहसुन पेट से जुड़ी समस्या का भी इलाज करनें में काफी मददगार होता है। डायरिया, कब्ज जैसी समस्या के लिए यह बेहद उपयोगी माना जाता है। पानी उबालकर उसमें लहसुन की कलियां डाल लें फिर इस पानी को सुबह खाली पेट पीनें से डायरिया और कब्ज से छुटकारा मिल जाएगा।
लहसुन दिल से जुड़े खतरों को भी दूर करता हैं । लहसुन खाने से खून का जमना कम किया जा सकता है और हार्ट अटैक की परेशानी से भी राहत मिलती है।
खाली पेट लहसुन की कलियां चबाने से पाचन में दिक्कत नहीं होती है और भूख भी लगना शुरू हो जाती है।
लहसुन का सेवन जुकाम, अस्थमा, निमोनिया, ब्रोंकाइटिस के इलाज में फायदा करता है।
नोट- लहसुन को मसाले में मिलाकर खाने से इसका असर पूरी तरह से मर जाता है इसलिए लहसुन को आग में भून कर ही खाना चाहिए। वो भी केवल एक से दो टुक्ड़े। लहसुन गर्म होती है इसलिए इसको ज्यादा खाना भी सेहत के लिए खतरनाक हो सकता है। किसी अन्य प्रकार की समस्या से बचने के लिए नुस्खे आजमाने से पहले अपने डॉक्टर से जरूर संपर्क करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.