आगरा एयरबेस के जवान देश में ही नहीं, विदेशों में भी देश का नाम रोशन कर रहे हैं

0
75
  • आगरा एयरबेस के जवान देश में ही नहीं, विदेशों में भी देश का नाम रोशन कर रहे हैं

आगरा। 8 अक्टूबर 2019 को भारतीय वायुसेना अपनी 87 वां स्थापना स्थापना दिवस बड़े ही धूमधाम मनाने जा रहा है। भारतीय वायुसेना भारतीय सशक्त सेना का एक अंग है जाे वायु युद्ध, वायु सुरक्षा एवं वायु चौकसी का महत्वपूर्ण काम देश के लिए करती है ।
इसकी स्थापना 8 अक्टूबर 1932 को की गई थी।
इसी उपलक्ष्य में भारतीय एयरफोर्स के आगरा एयरबेस ने भारतीय वायुसेना की 87वीं वर्षगांठ से पहले मीडिया नुमांदाे को आगरा एयरबेस का भ्रमण कराया। भारतीय वायु सेना के अधिकारियों ने आगरा एयरबेस के बारे मे बताया कि, आगरा एयरवेज देश में अपना अलग ही स्थान रखता है। यह भारत का महत्वपूर्ण स्टेशन है ।
1942 से सेना को पैरा ट्रेनिंग देने का काम कर रहा है युद्ध में इसका बहुत ही महत्वपूर्ण भूमिका निभाने में याेगदान रहा है, उस वक्त इस एयरबेस का नाम ‘आगरा एयरड्रॉप’ था। आज ये भारत का इकलौता वायुसेना स्टेशन है।
आगरा एयरबेस में देश का एकमात्र पैराशूट ट्रेनिंग सेंटर (पीटीएस) है। जिसमे भारत, बांग्‍लादेश, श्रीलंका समेत कई देशों के जवान यहां पर पैराशूट की सहायता से विमान से आसमान में कूदने की ट्रेनिंग लेते हैं। एक साल में करीब 13 हजार जवान काे यहां ट्रेनिंग देकर उन्हें देश के लिए संबल प्रदान करने का कार्य वर्तमान में कर रहा है।
भारत के शत्रु देशों के छक्के छुड़ाने में अग्रणी रहा है, बही भूतकालीन युद्धाे मे आगरा एयरवेस स्टेशन ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाने का कार्य किया है।
ये भारत की वायु सेना की सैन्य क्षमता को बढ़ाने में सदैव अग्रणी हैं, जिससे पूरे देश को नाज है।
भारतीय एयरफोर्स के जवान देश में ही नहीं, विदेशों में भी भारत का नाम राेशन कर रहे हैं।

रिपोर्ट : हिन्द मोर्चा टीम आगरा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.