एक शाम जवानों के नाम.. हिंदुस्तान की गौरव गाथा

0
32
हिन्दमोर्चा संवाददाताl
ए नाम अपने आप मे ही पूरे हिंदुस्तान की गौरव गाथा कह रहा है क्योंकि जवानों के सजग निगहबानी में ही आज हमारा मुल्क अमन व शांति के रास्ते पर चलते हुए विश्व में अपनी ख्याति विखेर रहा है और हम वीणा किसी भी के चयन की नींद सो रहे है इसलिए हमारा फर्ज बनता है कि इनसे जितनी नजदीकियां बना पाए ये हमारे लिए बड़ी खुशनशीबी होगी,
ये बाते आज गांधी चौक के ऐतिहासिक स्थल पर आयोजित एक शाम जवानों के नाम कार्यक्रम में नौतनवा नगर पालिका अध्यक्ष व विकाश पुरुष के नाम से सुविख्यात गुड़डू खान ने कही।
स्वतंत्रता दिवस की पावन बेला पर आयोजित इस देशभक्ति कार्यक्रम से पूर्व सायंकाल तिरंगे को SSB के बिगुल संगीत के साथ ससम्मान उतारा गया,श्री खान ने नौतनवा में बने सभी ऐतिहासिक धरोहरों जैसे शहीद प्रतिमा,अटल प्रतिमा, घंटाघर, सरदार शहीद भगत सिंह प्रतिमा,गांधी प्रतिमा आदि को तिरंगे की रोशनी में नहलाकर ये सावित किया कि इनके अन्दर देशभक्तिं की भावना कूट-कूट कर भरी हुई है।
कार्यक्रम में स्कूली बच्चो व स्थानीय गायकों ने अपने सुरों व नृत्यों से दर्शकों को अपनी कुर्सियों से उठने तक नही दिया। इस अवसर पर सशस्त्र सीमा बल 66वी वाहिनी के सहायक कमांडेंड बरजीत सिंह ने कहा कि *हमने बहुत सी जगहों पर अपने कार्यो को अंजाम दिया परन्तु आज हमे जो यहा देखने को मिला ये हमारे नौकरी पेशे में एक धरोहर के रूप में दर्ज हो गयीl

वही नौतनवा नगर पालिका की पूर्व अध्यक्ष नायला खान ने कहा कि इस तरह के कार्यक्रम स्थानिय कलाकारों का मनोबल बढ़ाने में बहुत ही सहायक सिद्ध होता हैl इस ऐतिहासिक व देशभक्ति कार्यक्रम को सफल अन्जाम तक लेकर जाने वाले राजेश ब्वाएड ने जहॉ अपने संचालन के गुणों को मंच पर रखा वही उन्होंने अपने सुर लहरियों की नुमाइश भी बखूबी की सारे कार्यक्रमो को देख कर ही सभीबदर्शक अपने -अपने घरों को गए।
इस अवसर पर चौकी प्रभारी नीरज राय,शाहनवाज खान,व्रिजेश मणि त्रिपाठी,बन्टी पाण्डेय,रामनारायन गौतम, राजकुमार गौड़, राजेन्द्र जाय0,खुर्शेद आलम,सद्दाम हुसैन, अनुज राय, रामबृक्ष प्रसाद,पप्पू जाय0,अनिल जाय0, किसमती देवी, गुड़डू अन्सारी,सूनील जाय0,संजय मौर्या,अनिल मद्धेशिया के अलावा SSB के जवान भी उपस्थित रहे।

हिन्दमोर्चा संवाददाता Team Nautanwan

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.