कई बड़े अफसर भी शामिल है सरकारी नौकरी के नाम पर करोड़ों की ठगी में, जल्द हो सकती है बड़ी गिरफ्तारी

0
244
Kanpur (HM News)l प्रतियोगी परीक्षाओं में पास करवाकर सरकारी नौकरी लगवाने के नाम पर करोड़ों रुपये की ठगी करने के मामले में प्रयागराज के कई बड़े अधिकारी भी शामिल हैं। इस संबंध में कानपुर की सचेंडी पुलिस और एसएसपी की स्वाट टीम को अहम जानकारी व साक्ष्य मिले हैं। इन अधिकारियों और बाबू की साठगांठ से पूरा खेल चल रहा था। जांच टीमों ने प्रयागराज में डेरा डाल दिया है। मामले में जल्द ही बड़ी गिरफ्तारियां हो सकती हैं।
सचेंडी पुलिस ने गिरोह का भंडाफोड़ करते हुए शनिवार को हसुवा, शिकोहाबाद, फिरोजाबाद निवासी सरकारी शिक्षक मनोज कुमार उर्फ बबलू और उसके दो साथी खगरई, नारकी फिरोजाबाद के अवधेश कुमार उर्फ पप्पन व असुआ शिकोहाबाद के तारा सिंह को गिरफ्तार कर जेल भेजा था। जांच में पता चला है कि प्रयागराज के धूमनगंज प्रतीक नगर निवासी एक विभाग का बाबू संजीव कुमार भी गिरोह में शामिल है।
वह परीक्षाओं में हेरफेर करवाने के साथ सॉल्वर भी बैठाता है। सचेंडी एसओ शेष नारायण पांडेय ने बताया कि रैकेट बड़ा है। इसमें बाबू के अलावा कई अधिकारियों के भी नाम सामने आए हैं। जल्द ही उन सभी से पूछताछ कर कार्रवाई की जाएगी।
स्वाट टीम प्रभारी के मुताबिक गिरोह का जाल जम्मू, बिहार, हरियाणा, मध्य प्रदेश, दिल्ली, उत्तराखंड में फैला हुआ है। इन राज्यों में सरगना मनोज कुमार ने एक से दो लोगों को रखा है। वह वहां से युवाओं को अपने जाल में फंसाकर मनोज से मिलवाते थे। इन बिचौलियों की भी तलाश की जा रही है।
मनोज के पास बरामद डायरी में सैकड़ों लोगों के नाम और फोन नंबर लिखे हैं। कई नामों के आगे रकम भी लिखी है। पुलिस ने एक-एक नाम व नंबर का सत्यापन करना शुरू कर दिया है।
संजीव कुमार निवासी प्रतीक नगर, धूमनगंज, प्रयागराज, लवलेश यादव निवासी किहरा, फिरोजाबाद, अचल सिंह निवासी नगला माऊ, फिरोजाबाद, शैलेश निवासी शाहपुर शिकोहाबाद और गोपाल निवासी कानपुर नगर।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.