गठबंधन प्रत्याशी रितेश पाण्डेय को मिला स्वच्छ छबि का इनाम

0
160

⏺सपा, बसपा के कद्दावर नेताओं व समर्थकों द्वारा बधाई का सिलसिला जारी

अंबेडकरनगर। लोकसभा सीट के चुनाव में भाजपा व गठबंधन प्रत्याशी के बीच मुकाबले में रितेश पाण्डेय विजयी घोषित हुये जिसे लेकर उनकी स्वच्छ छबि का इनाम माना जा रहा है।

ज्ञत होे कि यूपी की 80 सीटों पर 2019 के लोस चुनाव में एक तरफ जहां भाजपा को पराजित करने के लिए सपा, बसपा व रालोद द्वारा गठबंधन किया गया वहीं गठबंधन को मंशा अनुरूप सफलता नहीं मिली, ज्यादातर सीटों पर भाजपा का कब्जा हो गया किन्तु अंबेडकरनगर में पराजय का सामना करना पड़ा।

मतगणना के पश्चात् गठबंधन प्रत्याशी रितेश पाण्डेय के स्वागत मंे गठबंधन मंे शामिल कद्दावर नेताओं व उनके समर्थकों द्वारा बधाई व माल्यार्पण का सिलसिला जारी है। इस परिणाम को लेकर लोगों का कहना है कि भाजपा द्वारा बाहरी प्रत्याशी घोषित किया गया जिनके जीत होने के बाद भी किसी समस्या में उनसे मुलाकात करना संभव नहीं होता।

ऐसे में भले ही रितेश पाण्डेय गठबंधन से चुनाव लड़े किन्तु उनका जीतना आवश्यक था। लोगों का कहना है कि रितेश अपने पिता के अलावा परिवार के अन्य सदस्यांे में सबसे अलग विचार के हैं।

दो साल के विधायक कार्यकाल में जब भी उनसे किसी को मिलना हुआ अथवा फोन पर बात करना पड़ा बेहिचक उनके द्वारा जैसी भी समस्या रही हो किसी को निराश नहीं होना पड़ा है।

लोेगों में यह भी आवाज उठ रही है कि अब तक के इस क्षेत्र से हुये विधायकों में जितना विकास रितेश ने किया है, किसी ने नहीं किया, सदन में क्षेत्र की समस्याएं उठायी गयी और उनके निराकरण भी देर सबेर किये गये है।

ऐसी दशा में भाजपा प्रत्याशी का जीतना ठीक नहीं होता। अब इससे माना जा सकता है कि कहीं न कहीं अपनी छबि के बदौलत रितेश पाण्डेय ने जनमानस में जगह बनायी और 1 लाख से अधिक मत पाकर भाजपा प्रत्याशी को पराजित किया।

रिपोर्ट : हिन्द मोर्चा टीम अम्बेडकर नगर  

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.