दहेज लोभियों ने नहीं पाया कार तो विवाहिता को किया आग के हवाले

0
116

⏺ मामला 10 मई का, मुकदमा दर्ज, आरोपियों तक नहीं पहुॅचे पुलिस के हाथ
⏺ ससुराली जनों का आरोप दहेज लोभियों से सौदाकर पुलिस दे रही संरक्षण

अयोध्या। इनायतनगर थाना क्षेत्र में शादी के 6 माह बाद विवाहिता की दहेज लोभिओं द्वारा कार की मांग न पूरी होने पर जलाकर मौत के घाट उतार दिया गया। मायका पक्ष की तहरीर के अनुसार नगर के महाजनी टोला निवासी रामचंद्र यादव ने अपनी पुत्री शालिनी का विवाह हिंदू रीति-रिवाज से अपनी हैसियत के अनुसार दान दहेज देकर इनायतनगर थाना क्षेत्र के कदनपुर निवासी राजकुमार यादव के साथ विगत 10 दिसंबर 2018 को किया था।

शादी में राजकुमार द्वारा कार की मांग किया गया परंतु लड़की के पिता ने असमर्थता जताते हुए कहा कार की व्यवस्था हमारे पास नहीं है इस पर राजकुमार द्वारा बार-बार मांग किए जाने पर शालिनी के पिता ने हां भर ली जिसके बाद लड़की की विदाई हो गई, पर शादी के कुछ माह के पश्चात् ससुराल पक्ष से बार-बार कार की मांग होती रही जिसके पूरा न होने पर शालिनी को बराबर प्रताणित किया जाता रहा।

शालनी अपने पिता से कहती रही कि कार दे दो नहीं तो यह दहेज के लोभी मुझे जान से मार डालेंगे। अंततोगत्वा वही हुआ जिसका शालिनी को डर था। 10 मई को उसके परिवार वालों ने मायके वालों को सूचित किया कि वह गंभीर अवस्था में बीमार है जिसे जिला अस्पताल में भर्ती करा दिया है।

शालिनी के पिता रामचंद्र जब जिला अस्पताल पहुंचे तो देखा बर्न वार्ड में शालिनी करीब 80 प्रतिशत जली अवस्था में जीवन और मौत से संघर्ष कर रही थी। डॉक्टरों के अथक प्रयास के बाद भी शालिनी की मौत हो गई।

पुत्री की मौत पर पिता रामचंद्र ने इनायतनगर थाने पर 13 मई को मुकदमा अपराध संख्या 227/2019 की धारा 398 ए 304 बी 3/4 बी पति राजकुमार, बृजेश देवर, ससुर जगदेव यादव, सास व ननंद सुमन यादव के नाम दहेज हत्या का मुकदमा पंजीकृत किया गया लेकिन अब तक पुलिस ने किसी को गिरफ्तार नहीं किया हैं। आरोप है कि दहेज लोभियों को पुलिस संरक्षण दे रही है जिसके एवज में सौदा बाधक बन रहा है।

रिपोर्ट : हिन्दमोर्चा टीम अम्बेडकरनगर

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.