बीजेपी के आकाशीय प्रत्याशी को लेकर कार्यकर्ता व जनपदवासी निराश

0
169

⏺  क्या भाजपा में ऊची पकड़ व गणेश परिक्रमा से ही मिलते हैं पद व टिकट
⏺  समय बतायेगा, मोदी के नाम पर कार्यकर्ता होते है सक्रिय व बैठते हैं घर

(सूरज यादव)

अंबेडकरनगर। भारतीय जनता पार्टी द्वारा 55 लोकसभा क्षेत्र से कैंसरगंज के विधायक व सूबे के सहकारिता मंत्री, बहराइच निवासी को यहां का प्रत्याशी बनाया गया है। ध्यान देने योग्य बात यह है कि जिले के कार्यकर्ताओं द्वारा बड़ी सिद्दत से मांग की जा रही थी कि स्थानीय कार्यकर्ता को लोकसभा का टिकट दिया जाय.

जिससे कार्यकर्ताओं को सम्मान मिले लेकिन पार्टी ने नेतृत्व 2014 और 2017 के विधान सभा की तरह कार्यकर्ताओं की इच्छाओं को नजर अन्दाज करते हुये आकाशीय प्रत्याशी का चेहरा बनाकर मैदान में उतारा जिसकों लेकर कार्यकर्ताओं में काफी आक्रोश सुनने को मिल रहा है।

नाम न छापने की शर्त पर कई कार्यकर्ताओं ने कहा कि जब पार्टी से कुछ मिलने की बात आती है तो हम कार्यकर्ताओं को नजर अन्दाज करते हुये दूसरों को सम्मान देतीे है। ऐसे में मेहनत, निष्ठा और ईमानदारी का कोई मतलब नहीं है।

अब तो धीरे-धीरे चाय पान की दुकानों पर भी यह चर्चा जोर पकड़ने लगी है कि भाजपा नेतृत्व जान बूझकर जिले में पार्टी को मजबूत नहीं करना चाहता है जिसका प्रत्यक्ष उदाहरण है कि 2009 में विनय कटियार, 2014 में हरिओम पाण्डेय तथा 2017 के विधान सभा चुनाव में अकबरपुर, कटेहरी और जलालपुर से दल बदलुआंे को टिकट देकर पार्टी ने कार्यकर्ताओं को निराश करने का काम किया था, इतना ही नहीं कपिल देव वर्मा जो पार्टी के सक्रिय सदस्य भी नहीं थे,

उन्हे पार्टी का जिलाध्यक्ष बनाकर कार्यकर्ताओं को यह संदेश दिया कि ऊची पकड़ और गणेश परिक्रमा के बदौलत बीजेपी में पद और टिकट मिलता है, जिसका परिणाम रहा कि कपिल देव वर्मा की गतिविधियों के कारण पार्टी द्वारा आयोजित कार्यक्रमों में धीरे-धीरे जनता की बात छोड़िए कार्यकर्ता भी किनारा कसने लगे थे।

किसान मोर्चा, अनुसूचित मोर्चा, महिला मोर्चा, पिछड़ा वर्मा मोर्चा और युवा मोर्चा के सम्मेलन के लिए पार्टी ने प्रदेश से रूपया जिलाध्यक्ष के खाते में भेजा था परन्तु किसी भी कार्यक्रम में 150 से ज्यादा भीड़ नहीं हुई, हद तो तब हुआ जब किसान मोर्चा का सम्मेलन गोसाईगंज कस्बे में भागवत कथा के पण्डाल को खाली कराकर औपचारिकता पूरी की गयी थी।

उल्लेखनीय है कि इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि क्षेत्रीय अध्यक्ष सुरेश तिवारी जी रहे। अब देखना है कि कार्यकर्ता मोदी के नाम पर पुनः एकजुट होकर भाजपा प्रत्याशी की नैय्या को पार लगाता है अथवा चुपचाप घर बैठकर तमाशा देखेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.