सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है पुलिस उपनिरीक्षक चिकित्सीय प्रशिक्षण व चरित्र सत्यापन सम्बंधित पत्र

0
1959

Lucknow : उत्तर प्रदेश भर्ती एवम प्रोन्नति विभाग द्वारा 28 फ़रवरी को पोलिस उपनिरीक्षक का परिणाम उनकी विभागीय वेबसाईट पर घोषित किया गया था। इसी कारवाई को आगे बढ़ाते हुए चयनित अभ्यर्थीयो के चिकित्सीय परीक्षण एवम चरित्र सत्यापन सम्बंधित एक नोटिस सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।

इस नोटिस में परीक्षण सम्बंधित तीन बिंदुओं पर प्रकाश डाला गया है। सबसे महत्वपूर्ण तीसरे बिंदु में सक्षम अधिकारियों को ये निर्देश दिया गया है की दिनांक 8 से 25 अप्रैल के बीच उपर्युक्त परीक्षण एवम सत्यापन सम्बंधित कार्यों को पूरा किया जाये क्योंकि कुछ ही समय में लोकसभा चुनाव प्रस्तावित है।

बताते चले की दरोगा नियुक्ति पत्र पर उच्च न्यायालय के न्यायाधीश माननीय श्री राजेश सिंह चौहान की एकल सदस्य पीठ ने अगली सुनवायी तक रोक लगा दी है। भर्ती को लेकर यह विवाद सरकार एवम अचयनित अभ्यर्थियों के बीच सरकार द्वारा अपनायी गयी मानकीकरण प्रणाली के आधार पर हुआ है।

Read also : भाजपा पिछड़ा वर्ग सम्मेलन में फिर आया पार्टी जिलाध्यक्ष का कारनामा 

इस बात पर कई सवाल उठ रहे है की अगर नियुक्ति पत्र उच्च न्यायालय द्वारा रोक लगाई गयी है तो प्रोसेस आगे कैसे बढ़ सकता है जिस पर दूसरे पक्ष का कहना है की रोक सिर्फ नियुक्ति पत्र पर लगाई गयी है न की चरित्र सत्यापन एव्म मेडिकल परीक्षण पर। अब देखना यह है की इस कड़ी में सरकार का अगला कदम क्या होगा।

Report : Hindmorcha Team Kucknow

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.