अमेरिकी अखबार की चेतावनी, भारत-पाकिस्तान के बीच बना हुआ है परमाणु युद्ध का खतरा

0
47

नई दिल्ली [Agency]। पुलवामा आतंकी हमले (Pulwama Terror Attack) और भारत द्वारा पाकिस्तान में की गई सर्जिकल स्ट्राइक के बाद से दोनों देशों के बीच सीमा पर युद्ध जैसी स्थिति बनी हुई है। दोनों देशों की सेनाओं के बीच सीमा पर लगातार गोलाबारी की जा रही है।

ऐसे में दुनिया के कई देशों को डर है कि अगर तनाव की इन स्थितियों ने युद्ध का रूप लिया तो ये परमाणु युद्ध का भी रूप ले सकता है। न्यूयार्क टाइम्स ने इसी मुद्दे पर शुक्रवार को संपादकीय प्रकाशित किया है।

अमेरिकी अखबार न्यूयार्क टाइम्स (NYT) द्वारा प्रकाशित संपादकीय में कहा गया है कि परमाणु हमले का खतरा जहां सबसे ज्यादा है, वह उत्तर कोरिया नही, बल्कि भारत और पाकिस्तान हैं।

संपाकीय में कहा गया है कि पुलवामा हमले के बाद फिलहाल दोनों देशों के बीच तनाव शांत होता प्रतीत हो रहा है, लेकिन दोनों देशों के पास मौजूद परमाणु हथियार का मतलब है कि अकल्पनीय परिणाम हमेशा संभव हैं।

भारत और पाकिस्तान इस वक्त ऐसे पड़ोसी देश हैं, जिनके बीच दुनिया में सबसे ज्यादा टकराव की स्थिति बनी हुई है। हालांकि दोनों देशों ने फिलहाल स्थिति को अच्छी तरह से काबू किया हुआ है।

हालांकि, इन पड़ोसी देशों को कोई ठोस समाधान तलाशना होगा और ये तब तक संभव नहीं है जब तक भारत और पाकिस्तान अपने मुख्य विवाद का आपसी सहमति से निपटारा नहीं कर लेते हैं। ये विवाद है कश्मीर का। इसकी वजह से दोनों देशों के बीच कटुता बढ़ती जा रही है और हर वक्त भारत-पाक के बीच भयानक टकराव की आशंका बनी रहती है।

NYT ने अपने संपादकीय में लिखा है कि दोनों देशों के बीच ताजा विवाद की वजह 14 फरवरी को जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में अर्धसैनिक बल (CRPF Convoy) के काफिले पर हुआ आत्मघाती हमला है। इस हमले में भारत के 40 जवान शहीद हो गए थे।

संपादकीय में पुलवामा टेरर अटैक को भारतीय अर्धसैनिक बलों पर आजादी के बाद हुआ अब तक का सबसे बड़ा हमला बताया गया है। इसके बाद भारत द्वारा पाकिस्तान में वायु सेना के फाइटर प्लेन भेजकर सर्जिकल स्ट्राइक (Surgical Strike2) करने का भी जिक्र संपादकीय में किया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.