Deoria Election-2020: देवरिया से विधायक रहे जन्मेजय सिंह के पुत्र अजय ने कर ली BJP से बगावत, उपचुनाव में करेंगे नामांकन दाखिल

0
95
देवरिया, (Hm News )- Deoria Assembly By Election-2020: उत्तर प्रदेश में विधानसभा उप में देवरिया का मामला बेहद रोमांचक मोड़ पर आ गया है। देवरिया सदर से विधायक रहे जन्मेजय सिंह के निधन के बाद खाली सीट पर भारतीय जनता पार्टी के साथ ही समाजवादी पार्टी, बहुजन समाज पार्टी तथा कांग्रेस के ब्राह्मण प्रत्याशियों को मैदान में उतारने के बाद स्वर्गीय जन्मेजय सिंह के पुत्र ने भाजपा से बगावत कर दी है।
स्वर्गीय विधायक जन्मेजय सिंह के सुपुत्र अजय कुमार सिंह उर्फ पिंटू सिंह आज पर्चा दाखिल करेंगे। देवरिया में देवरिया सदर उपचुनाव में भारतीय जनता पार्टी से टिकट ना मिलने के बाद स्वर्गीय विधायक जन्मेजय सिंह के पुत्र अजय प्रताप सिंह उर्फ पिंटू सिंह ने चुनाव मैदान में बने रहने का फैसला किया है। भाजपा ने यहां पर अपना प्रत्याशी घोषित करने में भले ही एक दिन का विलंब किया, लेकिन अजय प्रताप सिंह आज देवगांव हनुमान मंदिर से अपना नामांकन करने जाएंगे। वह देवरिया सदर उपचुनाव में अपना नामांकन दाखिल करेंगे।
अजय ने कहा कि एक पार्टी से वार्ता चल रही थी लेकिन तकनीकी कारण और कार्यकर्ताओं की राय के बाद निर्दल प्रत्याशी के रूप में लड़ने का निर्णय लिया गया। मैं निर्दल प्रत्याशी के रूप में ही भाजपा से आरपार की लड़ाई लड़ूंगा। आरोप लगाया कि भाजपा ने मेरे साथ विश्वासघात किया है। मैं पिता स्वर्गीय जन्मेजय सिंह के सपनों को साकार करने के लिए चुनावी मैदान में आ रहा हूं।
जन्‍मेजय सिंह के बेटे अजय सिंह ने भारतीय जनता पार्टी पर पिछड़ों की उपेक्षा करने का आरोप लगाया है। उनका कहना है कि पार्टी के बड़े नेताओं ने आश्‍वासन देने के बाद भी उनका टिकट काट दिया। भारतीय जनता पार्टी ने पिछड़ों की उपेक्षा की है, जिसका खामियाजा उसे भुगतना पड़ेगा। वह अपने निर्णय से पीछे नहीं हटेंगे। उधर भाजपा के जिलाध्यक्ष अंतर्यामी सिंह ने कहा अजय कुमार सिंह पिंटू भाजपा के निष्ठावान कार्यकर्ता हैं, कुछ नाराजगी है, उनको मना लिया जाएगा।
देवरिया सदर सीट भाजपा विधायक जन्मेजय सिंह के निधन के कारण खाली हुई है। यहां पर सभी बड़े दल ने ब्राह्मण प्रत्याशियों को मैदान में उतार दिया है। भाजपा ने सत्य प्रकाश मणि को टिकट दिया है। वह संत विनोबा पीजी कॉलेज में राजनीति विज्ञान विभाग में प्रोफेसर हैं। सपा ने अखिलेश यादव सरकार में कैबिनेट मंत्री रहे ब्रह्माशंकर त्रिपाठी को उम्मीदवार बनाया है। बसपा ने यहां से अभयनाथ त्रिपाठी जबकि कांग्रेस ने मुकुंद भाष्कर मणि त्रिपाठी को चुनाव में उतारा है। चार ब्राह्मण प्रत्याशियों के बीच में अजय कुमार सिंह के मैदान में उतर जाने से मुकाबला और रोमांचक हो जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.