महिला की निर्मम हत्या, नुकीले हथियार से आंख फोड़ी, घर से करीब तीन सौ मीटर खेत में निर्वस्त्र कर फेंकी लाश, मायके पक्ष ने पति और सास पर लगाया हत्या का आरोप

0
228
बांदा (HM News)l बदौसा में महिला की निर्मम हत्या कर दी गई। सोमवार सुबह घर से करीब तीन सौ मीटर दूर खेत में निर्वस्त्र लाश मिली। नुकीले हथियार से उसकी आंख फोड़ी गई थी। गले व कमर में भी नुकीला हथियार धंसाया गया था। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। अतर्रा के बर्तन व्यापारी रामभवन ने 2015 में अपनी बेटी सुनीता (28) की शादी बदौसा के पौहार रोड बंगाली पुरवा निवासी भैरमदीन से की थी।
सुनीता ने शादी के दूसरे साल एक बेटी को जन्म दिया। बेटी के जन्म के बाद से ही सास और पति उसे प्रताड़ित करने लगे। इस पर मायके वाले नातिन का जिम्मा उठाते हुए उसे ननिहाल ले आए। ससुराल में विवाहिता अलग रहने लगी। सास रानीबाई और पति एक साथ रहने लगे। सुनीता ने अपने भरण-पोषण के लिए फैमिली कोर्ट में केस किया है। सोमवार सुबह घर से करीब 300 मीटर दूर उसकी निर्वस्त्र लाश एक खेत में पड़ी मिली।
लाश से थोड़ी दूर पर उसकी चप्पलें, मोबाइल फोन, एक लोटा, प्लास्टिक के गिलास, देसी शराब और पानी के पाउच भी पड़े मिले। सुनीता की दाईं आंख को नुकीले हथियार से फोड़ा गया था। गर्दन और कमर में भी नुकीला हथियार धंसाने के निशान मिले। शरीर पर नाखून और मारने-पीटने के कई निशान मिले।
सूचना पर पहुंची बदौसा पुलिस ने सास की शिनाख्त के बाद लाश को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। मायके पक्ष को लाश तक नहीं दिखाई गई। बदौसा थाना प्रभारी ने बताया कि सुनीता की मां की तहरीर पर सास और पति के खिलाफ हत्या की रिपोर्ट दर्ज की गई है। पति फरार है जिसकी तलाश की जा रही है।
खेत में विवाहिता की लाश मिलने के बाद पुलिस उसके कमरे में गई तो बाहर से ताला बंद था। ताला तुड़वाकर अंदर देखा गया तो वहां भी टूटी चूड़ियां और सिर के नोंचे बाल पड़े मिले। इससे साफ था की पहले कमरे में ही उससे मारपीट की गई थी। फिर रात में उसके बाहर निकलने पर खेत में हत्या कर दी गई। सुनीता के छोटे भाई ने बताया कि रात आठ बजे बहन ने फोन कर मारपीट की बात बताई थी। पड़ोसियों ने बताया कि रात नौ बजे के करीब विवाहिता खेत की ओर गई थी, इसके बाद उसे लौटते नहीं देखा।
मायके पक्ष ने सुनीता के पति और सास पर हत्या की आशंका जताते हुए रिपोर्ट दर्ज कराई है। सास ने बताया कि बेटा काम की तलाश में दो दिन से बाहर है। फोन मिलाने पर उसका मोबाइल बंद मिला। आस-पड़ोस के लोगों ने बताया कि लॉकडाउन के बाद से वह कहीं भी काम नहीं कर रहा था। रविवार शाम गांव ही दो लोगों के साथ उसको शराब पीते देखा गया था।
ग्रामीणों ने खेत में लाश सुबह करीब छह बजे देखी थी। सूचना के आधे घंटे के अंदर बदौसा थाना प्रभारी फोर्स के साथ मौके पर पहुंच गए। घटनास्थल पर मिले साक्ष्य को सील करा बिना फॉरेसिंक टीम बुलाए उन्होंने लाश पोस्टमार्टम के लिए भेज दी। इसकी जानकारी सीओ को हुई तो उन्होंने नाराजगी भी जताई। मायके वालों को ग्रामीणों के जरिए बेटी के मारे जाने की खबर मिली।
सुनीता की चित्रकूट निवासी बड़ी बहन ने बताया कि बदौसा स्थित बहन की ससुराल का घर रोड किनारे है। अच्छी कीमत मिलने की लालच में ससुरालवाले घर को बेचना चाहते थे, लेकिन बहन उसमें रोड़ा बनी थी। बहन घर बिकने नहीं दे रही थी, जिसको लेकर कई बार बहन को मारपीटा भी गया। आशंका जताई की कि मकान न बिक पाने पर सास और उसके पति ने ही हत्या की।

हत्या की जगह बनी पहेली, कपड़े नहीं मिले

सुनीता के कमरे और घटनास्थल पर खून के निशान नहीं मिले। इससे साफ है कि हत्या इन दोनों जगह पर नहीं की गई। थाना प्रभारी ने भी इस पर सहमति जताते हुए कहा कि हत्या कहीं और की गई। आशंका जताई गई कि हत्या में और भी लोग शामिल हो सकते हैं। सुनीता के भाई ने आरोपित पति, उसके दो बुआ के लड़के और गांव के ही उसके एक दोस्त के भी हत्या में शामिल होने की आशंका जताई है।

कर्वी-बांदा राजमार्ग जाम करने की कोशिश

सुनीता की लाश सीलकर पोस्टमार्टम के लिए भेजी जा रही थी तभी उसके मायके के लोग और ग्रामीण पहुंच गए। घटना से आक्रोशित लोगों ने गाड़ी से लाश को जबरन उतरवा लिया। खुलासा और हत्यारोपित की गिरफ्तारी की मांग को लेकर एनएच-76 कर्वी-बांदा राजमार्ग को जाम करने की कोशिश की। लोगों का आक्रोश देख सीओ सत्यप्रकाश ने स्थिति संभाली। उन्होंने कहा आश्वासन दिया कि हत्यारोपितों की गिरफ्तारी और पूर्ण खुलासे के बाद ही थाने से हटेंगे, तब लोग मानें।

सास समेत पांच हिरासत में

एसपी और एएसपी दिन में करीब पौने बारह बजे घटनास्थल पहुंचे। मौका मुआयना के बाद थाना प्रभारी को जल्द खुलासे के निर्देश दिए। नामजद हत्यारोपित की गिरफ्तारी को पुलिस ने संभावित ठिकानों पर दबिश भी दी। लेकिन देर शाम तक कोई कामयाबी हाथ नहीं लगी। सास और उसके चार करीबियों को पुलिस ने पूछताछ के लिए हिरासत में लिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.