कोख के सौदागरों को लेकर बड़ा खुलासा, विष्णुकांत और अस्मिता ने विदेशी दंपतियों को भी बेचे बच्चे

0
393
आगरा (HM News)l कोख के सौदागर गैंग के मास्टरमाइंड नोएडा निवासी डॉक्टर विष्णुकांत के एजेंट आनंद राहुल सारस्वत को आगरा पुलिस कस्टडी रिमांड पर सिलीगुड़ी लेकर गई है। इस बीच उसने पूछताछ में कई राज उगले हैं। उसने बताया है कि मास्टरमाइंड डॉ. विष्णुकांत और उसकी पत्नी अस्मिता ने विदेशी दंपतियों को भी बच्चे बेचे हैं। पुलिस को सिलिगुड़ी में डॉक्टर विष्णुकांत के दो एजेंटों की तलाश है। इन एजेंटों ने दो बच्चों को खरीदा था
पुलिस को राहुल ने बताया कि मूलरूप से कर्नाटक निवासी डॉ. विष्णुकांत 12 साल से नोएडा में रहकर सरोगेसी कराने में लगा था। तब से राहुल डॉ. विष्णुकांत के संपर्क में है। उसने बताया है कि जब सरोगेसी कानूनी रूप से होती थी, तब डॉक्टर के पास विदेशी दंपती आते थे। विदेशी दंपतियों को होटल में ठहराने से लेकर अस्पताल और बाहर घुमाने की जिम्मेदारी राहुल पर ही रहती थी।
दिल्ली के अलावा अन्य जगह भी वही लेकर जाता था। बाद में जब यह अवैध हो गई, तब भी विष्णुकांत ने इसे जारी रखा और दिल्ली, हरियाणा, राजस्थान, पश्चिमी बंगाल के साथ ही विदेश के लोगों को भी बच्चे बेचे।आगरा के एसपी ग्रामीण प्रमोद कुमार ने बताया कि मास्टरमाइंड डॉ. विष्णुकांत और उसकी पत्नी अस्मिता नेपाल में बच्चों को एजेंट के माध्यम से भेजते थे। महिलाओं को भी सरोगेसी के लिए वहीं लेकर जाया जाता था। गैंग के एजेंट सिलीगुड़ी में फैले हुए हैं। दो बच्चों को राहुल सिलीगुड़ी में दो एजेंट को देकर आया था।
पूछताछ में राहुल ने एजेंट के बारे में बताया है। इस पर पुलिस अब आनंद राहुल को टीम सिलीगुड़ी लेकर गई है। उसके एजेंटों की तलाश की जा रही है। देर रात टीम पहुंच गई। इसके बाद स्थानीय पुलिस से संपर्क कर एजेंट की तलाश की गई है। शुक्रवार को भी टीम वहीं रहेगी। उधर, फरार डॉक्टर सहित अन्य की तलाश में पुलिस टीम लगी है।

बयान दर्ज कराने नहीं आए नोएडा के डॉक्टर

तीन साल पहले डॉक्टर विष्णुकांत के साथी रहे नोएडा निवासी डॉ. विशाल को पुलिस टीम ने बयान दर्ज कराने के लिए थाना फतेहाबाद बुलाया था। मगर, वो गुरुवार को बयान दर्ज कराने नहीं आए। एसपी ग्रामीण ने बताया कि डॉक्टर को बुलाया गया है। वह जब भी आएंगे, बयान दर्ज कराए जाएंगे।

पुलिस को छह लोगों की तलाश

पुलिस को इस गिरोह के छह लोगों की तलाश है।19 जून को लखनऊ एक्सप्रेस वे पर फरीदाबाद की सरगना नीलम सहित पांच लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार करके जेल भेजा था। सभी कोख का सौदा से लेकर बच्चों को बेचने का काम करते हैं। फरीदाबाद की सरगना नीलम से पूछताछ में दिल्ली निवासी आनंद राहुल सारस्वत का नाम सामने आया था। पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर जेल भेजा था। मंगलवार को उसे कस्टडी रिमांड पर लिया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.