उन्नाव के पत्रकार शुभम मणि हत्याकाण्ड के अभियुक्त दिव्या अवस्थी समेत 6 गिरफ्तार, स्वाट व सर्विलांस टीम की सफलता पर एसपी ने किया खुलासा

0
119
 उन्नाव। पत्रकार शुभम मणि हत्याकांड के मुख्य अभियुक्ता दिव्या अवस्थी समेत 6 लोगो को उन्नाव सर्विलांस व स्वाट टीम ने गिरफ्तार कर जेल भेजा है अन्य नामजद की तलाश में पुलिस लगातार दबिश दे रही है।
बीते 19 जून को गंगाघाट ब्रम्हनगर निवासी पत्रकार शुभममणि त्रिपाठी की भाड़े के शूटरो ने सहजनी चैराहे पर गोली मारकर हत्या कर दिया था। मृतक के भाई ऋषभमणि त्रिपाठी ने गंगाघाट कोतवाली में अपने भाई की हत्या किए जाने के सम्बंध में दिव्या अवस्थी समेत 10 लोगों को नामजद किया था। जिसमे गंगाघाट कोतवाली में पंजीकृत कराया था। जिसमे एक नामजद आरोपी शाहनवाज की गिरफ्तारी के बाद शाहनवाज ने बताया कि दिव्या अवस्थी का शुक्लागंज में प्लाटिंग का कार्य चलता है जिसको मोनू खान देखता है।
दिव्या अवस्थी के प्लाटिंग पर हुए अवैध निर्माण की खबर पत्रकार शुभममणि द्वारा चलाया गया था। खबर को संज्ञान में लेकर राजस्व विभाग ने उक्त अवैध निर्माण को गिरा दिया था। जिस बात की खुन्नस से उपरोक्त लोगो द्वारा पिछले वर्ष शुभममणि पर जानलेवा हमला भी किया गया था। जिसके सम्बंध में गंगाघाट कोतवाली में शुभममणि द्वारा मुकदमा पंजीकृत कराई गई थी। वही सूत्रों की माने तो पिछले वर्ष के मुकदमे में गंगाघाट कोतवाल सतीश कुमार गौतम ने चार्जशीट दाखिल नही कराई थी।
हत्या के बाद चार्जशीट दाखिल होना बताया जाता है। पुलिस के अनुसार पूर्व की रंजीश तथा लॉक डाउन के दौरान शुभममणि द्वारा सोशल मीडिया पर दिव्या अवस्थी व मोनू खान के विरुद्ध पोस्ट डाले जाने पर दिव्या अवस्थी तिलमिला गई थी और मोनू खान को बुलाकर शुभममणि को रास्ते से हटाने की बात कही थी।
पुलिस को साक्ष्य व सर्विलांस की मदद से पता चला कि दिव्या अवस्थी के कहने पर मोनू खान ने अपने मित्र अफसर अहमद अब्दुल बारी के साथ मिलकर 4 लाख रुपए की बात तय करके 20 हजार रुपये एडवांस में देकर सुफियान, अहमद नगर निवासी टीपू सुल्तान बेकनगंज निवासी मोहम्मद शानू निवासी बाँस मण्डी व एक अन्य साथी को बुलाया जिनके साथ मिलकर बीते 19 जून को शुभममणि को सहजनी चैराहे पर गोली मारकर हत्या कर दिया गया था।
जिसमे आरोपी फरार हो गए थे। एसपी रोहन पी कनय ने मुख्य अभियुक्ता दिव्या अवस्थी,कन्हैया अवस्थी, मोनू खान, सुफियान पर दस-दस हजार इनाम घोषित किया गया था। पुलिस ने मुख्य अभियुक्तो की गिरफ्तारी पुरवा उन्नाव हाइवे पर बताई है। वही अन्य आरोपियों में संतोष बाजपेयी पुत्र शीतला प्रसाद बाजपेयी की गिरफ्तारी पुरानी पुल गंगाघाट से व अन्य गिरफ्तार हुए अभियुक्त शानू उर्फ गांधी व टीपू सुल्तान को पुलिस ने कानपुर से गिरफ्तारी करना बताया जा रहा है।
वही स्वाट टीम व सर्विलांस टीम को इस हत्याकांड में बड़ी सफलता मिली है। प्रेस कॉन्फ्रेंस कर एडिशनल एसपी वीके पांडे ने आरोपियों की गिरफ्तारी की जानकारी दिया।

🔸घटना का संक्षिप्त विवरण

19 जून को थाना स्थानीय पर वादी ऋषभमणि त्रिपाठी द्वारा अपने भाई शुभम मणि त्रिपाठी की हत्या किए जाने के संबंध में दिव्या अवस्थी आदि सफर अभियुक्तों के विरूद्ध मुकदमा पंजीकृत कराया था जिसकी विवेचना के दौरान नाम जद अभियुक्त संवाद अंजर पुत्र स्वर्गीय जरा आलम की गिरफ्तारी के उपरांत अभियुक्त शाहनवाज ने बताया कि दिव्या का कस्बा शुक्लागंज में प्लाटिंग का कार्य है।
जिसको मोनू खान देखता है दिव्या भारती के बैटिंग पर हुए निर्माण को अवैध निर्माण की खबर शुभम मणि त्रिपाठी द्वारा चलाए जाने पर राजस्व विभाग द्वारा अवैध निर्माण को गिरा दिया गया था। तथा पूर्व में हुए हमले के संबंध में शुभम मणि के द्वारा दिव्या अवस्थी आदि के विरुद्ध अभियोग पंजीकृत कराया गया था।
जिसमें दिव्या अवस्थी आदि के विरुद्ध आरोप पत्र न्यायालय प्रेषित किया जा चुका है पूर्व की रंजिश तथा लॉकडाउन के दौरान दिव्या अवस्थी वाह मोनू खान के विरुद्ध शुभम मणि द्वारा सोशल मीडिया पर पोस्ट डाले जाने को लेकर अवस्थी तिलमिला गई थी। और शुभम बड़ी से नाराज होकर मोनू खान को बुलाकर शुभम मणि को रास्ते से हटाने की बात कही थी।
साक्ष्य संकलन व गिरफ्तार अभियुक्तों से पूछताछ व सर्विलांस की मदद से यह बात प्रकाश में आई है। की नामजद मोनू खान ने दिव्या अवस्थी के कहने पर अपने मित्र अफसर अहमद बारी के साथ मिलकर 4 लाख की बात तय कर 20 हजार एडवांस में देकर सुफियान शानू उर्फ गाँधी टीपू सुल्तान उर्फ राशिद व अन्य एक साथी को बुलवाया जिनके साथ मिलकर शुभम मणि की दिनांक 19 जून को सजनी चैराहे के पास गोलिया मारकर हत्या कर दी गई।
पुलिस अधीक्षक उन्नाव के द्वारा नामित वंचित अभियुक्त गण दिव्या अवस्थी, कन्हैया अवस्थी, राघवेंद्र अवस्थी उर्फ ईशु, मोनू खान,सुफियान आदि पर 10-10 हजार रुपये का पुरस्कार घोषित किया गया है। दिनाँक 29 जून को नामित वांछित अभियुक्त दिव्या अवस्थी उपरोक्त व प्रकाश में आए वांछित अभियुक्त टीपू सुल्तान उर्फ राशिद, सुफियान, मो. शानू उर्फ गाँधी, संतोष बाजपेयी, उपरोक्त की गिरफ्तारी की गई वह घटना में शामिल अन्य अभियुक्तों के विरुद्ध शासन को गिरफ्तारी की कार्रवाई की जा रही है।
गिरफ्तार करने वाली टीम फिरोज खा स्वाट टीम, गौरव कुमार स्वाट टीम, शिवबाबू सर्विलांस टीम, धर्मेंद्र यादव स्वाट टीम, जब्बार सर्विलांस टीम, खैरुल बशर स्वॉट टीम, रोहित शर्मा स्वाट टीम, मो. शमीम स्वाट टीम, राधेश्याम सर्विलांस टीम, अमर सिंह स्वाट टीम, सतीश कुमार गौतम प्रभारी निरीक्षक थाना गंगाघाट मय हमराह फोर्स।
हिन्दमोर्चा टीम उन्नाव

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.